350+ Heart Touching Quotes in Hindi

Heart Touching Quotes in Hindi - Hello friends, In this post today, We Give you the Heart Touching Quotes in Hindi. Friends, If you are also looking for Heart Touching Quotes in Hindi. So you are at the right place. In today's post, you will find a collection of many Heart Touching Quotes in Hindi. You can share these Quotes on your social media. Hopefully you will like this post.
350+ Heart Touching Quotes in Hindi

Heart Touching Lines Quotes Sms Shayari

ज्ञान तो दुनिआ में हर जगह बह रहा है, अब ये हमारे ऊपर है कि हम हर राह पर हाथ धोते चल रहे हैं या नहीं।

 

माना जुबां थोड़ी गन्दी है मेरी पर किरदार और कपड़े हमेशा साफ़ रखता हूँ।

 

माँगा तो मैंने भी चाहतों को ही था खुदा से, नजाने झोली में ये नफ़रतें ही क्यों दिखाई दे रही है।

 

खुद को बदलते देखा है मैने, वक़्त से तेज़ और ज़माने से आगे।

 

अकेले जीना सीख लो दोस्त हर Classroom चार दीवारों से घिरा और दोस्तों से भरा नहीं होगा।

 

“ऐ आईने तेरी भी हालत अजीब है,

मेरे दिल की तरह तुझे भी बदल देते है

यह लोग तोड़ने के बाद।”

 

“उसी से पूछ लो उसके इश्क की कीमत,

हम तो बस उसके भरोसे पर बिक गए।”

 

 “ख़ुशियाँ तो थोड़े समय के लिए सब्र देती है,

लेकिन सब्र हमेशा के लिए ख़ुशी देता है।”

 

 “दिल 💗 से ज्यादा महफूज जगह नहीं है दुनिया में,

मगर सबसे ज्यदा लोग लापता भी यहीं से होते।“

 

 “हर रात जान बूझकर रखता हूँ दरवाज़ा खुला,

शायद कोई लुटेरा मेरा गम भी लूट ले।”

 

“दिल 💗 का मंदिर बड़ा वीरान नज़र आता है,

सोचता हूँ तेरी तस्वीर लगा कर देखूँ।”

 

 “बेबसी किसे कहते है ये पूछो उस परिंदे से,

जिसका पिंजरा रखा भी तो खुले आसमान के तले।”

 

अगर तुम मुझे सिर्फ अपनी ज़रुरत के वक़्त याद करो और मैं तुम्हारे काम न आ सकूं तो मैं सही हूँ खुदगर्ज़ नहीं।

 

जो कह कर गए हैं फिर मिलेंगे वो अब फिर मिलेंगे जब उन्हें कोई काम होगा।

 

जो निभाया न जा सका मेरी वफ़ा से वो वादा हूँ मैं।

 

ज़िन्दगी बीत गई जब इज़्ज़त कमाने में तब पता चला इज़्ज़त पैसों की है इंसान की नहीं।

 

ठोकर खाकर सीधे चलना सीखा हूँ मैं और लोगों को आज भी लगता है की आज जो कुछ भी मेरे पास है सब क़िस्मत का है।

 

अपनी काली कमाई को भी खून पसीने की कमाई वो बताते है वो गलत नहीं बताते बस खून पसीना किसी और का होता है।

 

अहमियत हैसियत को मिलती है और एक हम्म है जो जज़्बात लिए फिरते हैं।

 

मिलना है तो कदर करने वालों से मिलो इस्तेमाल करने वाले तो तुम्हे ढून्ढ ही लेंगे।

 

गुरुर किस बात का करूं मेरे मरने की बाद मेरे अपने ही मुझे छूने के बाद हाथ धोएंगे।

 

ज़िंदगी कभी भी ले सकती है करवट तू घमंड ना कर छू ले बुलंदिया हज़ार मगर उसके लिए कोई गुनाह ना कर।

 

बेशक अभी रास्ता बहुत मुश्किल है मगर याद रखना आपकी मंज़िल भी बहुत ख़ूबसूरत होगी। 

 

ज़िंदगी मौक़ा सबको देती है फ़र्क़ सिर्फ़ इतना है कोई दिल से जी रहा है कोई दिल रखने के लिए जी रहा है।

 

मैंने सीखा है ज़िंदगी से एक तजुर्बा ज़िम्मेदारी इंसान को वक़्त से पहले बड़ा बना देती है।

 

बहुत गिनते रहते हो दूसरे लोगों के गुण दोष अपने अंदर झाँक लो उड़ जाएँगे तुम्हारे होश। 

 

निगाहो में मंज़िल थी गिरे और गिरकर संभलते रहे हवाओ ने ख़ूब कोशिश की मगर चिराग़ आँधियो में भी जलते रहे। 

 

हमेशा ख़ुद से सवाल करो मैं हूँ तो क्यों हूँ मैं कोई काम नही कर सकता तो क्यों नही कर सकता। 

 

कुछ दोस्त क्या ज़हरीले निकले, लोगो दोस्तों की तुलना साँपों से करने लगे।

 

समझ नहीं आया उनके लफ्ज़ थे या तीर सीधा सीने पर आ कर चुभ गए।

 

हाथो की लकीरों पर इतना विश्वास मत कर बन्दे तक़दीर तो उनकी भी होती है जिनके हाथ नहीं होते।

 

जिस दिन दिया धोखा मुझे मेरी वफ़ा ने, उस दिन मेरे अंदर की अच्छाई का कत्ले आम हो गया।

 

दम घुट गया मेरे अरमानों का, जब माँ ने कहा पूरी घर की ज़िम्मेदारियाँ अब तेरे कन्धों पर है।

 

जब ज़िन्दगी की अदालत में मुक़दमा एक दूसरे का साथ देने का था, तभी मेरे अपनों ने ही दी मेरे खिलाफ गवाही।

 

ज़माना पीठ पीछे बुराई ही करता रह गया, और हम आगे निकल गए।

 

ना जाने आशिकी में बादल और ज़मीन की कभी कभी क्या दूरियां आ जाती है की बादल बारिश का फरिश्ता भेजता ही नहीं ज़मीन पर।

 

मैं वो पुराना नहीं रहा बदल गया हूँ ठोकर खा कर संभल गया हूँ।

Very Heart Touching Sad Quotes in Hindi

पहले दोस्ती इतनी गहरी थी की हर ख़याल मिलता था अब ख़याल कहाँ मिलेंगे जब दोस्त ही नहीं मिलते।

 

बीत गई मेरी रात बैठे-बैठे ये इस सोच में की ना जाने कितना समय हो गया सुकुन से नहीं बैठे।

 

बैठा हूँ आज कुछ रिश्तों का हिसाब करने, गैर वफाओं में तुझे रख दिया तो बाकी रिश्ते नाराज़ हो जेएंगे।

 

ख्यालों में खोना कोई हमसे सीखे असल ज़िन्दगी में वो मुझे मिले न मिले ख्यालों में मैं उस से रोज़ मिलता हूँ।

 

पलट दूंगा हर उस पन्ने को मैं जिस पन्ने पर निशानी है तेरी।

 

जब बात जज़्बात की आए तो ज़रूरी नहीं की उसके बहाव में तुम हर बार बह ही जाओ।

 

मत मांग किसी से सहारे की भीख तेरी मुसीबतों का सहारा तू खुद है।

 

अब दो ही चीज़े मेरे सबसे क़रीब है एक मेरा परिवार और दूसरे मेरे दोस्त, अगर यह दोनों ही नहीं ना हो तो मेरी जिंदगी सबसे बदक़िस्मत होगी।

 

माँ मेरी वाकई बहुत अनपढ़ है, मैं मांग बस एक रोटी की करता हूँ वह मुझे हमेशा ही दो रोटी परोस देती है।

 

दोस्ती प्यार और दान कभी धर्म देख कर नहीं किया जाता।

 

अक्सर जुबां पर हलकी-सी हसी लेकर घूमने वालो का दिल बहुत भारी होता है।

 

इश्क़ दिल से किया जाता है साहब जिस्म से तो बस मतलब पूरे होते हैं।

 

माँ बाप के त्यागों को कभी फ़र्ज़ मत समझ लेना वरना ज़िन्दगी में बहुत पछताओगे।

 

नहीं खोल रहा है भगवान् इस बार भी कामयाबी के दरवाज़े मेरे लिए, शायद और बड़ा दरवाजा ढूंढा है उस ने मेरे लिए।

 

मामूली हूँ मैं पर हर कोई मेरे लिए ख़ास है, धोखे खाये काफी पर आज भी मुझे विशवास पर विशवास है।

 

कुछ से माफ़ी मांग लेना और कुछ को माफ़ कर देना यही बड़े दिल की निशानी होती है।

 

धरम को अलग रख दे सभी एक हैं और लालच हटा दोगे तो बन्दे सारे नेक हैं।

 

अत्यधिक गुरूर आ जाये तो याद रखना इंसान और अखबार पुराने हो ही जाते हैं, पर अच्छी खबरे और मीठे बोल बस याद रह जाते हैं।

 

तलाश कर रहे हो प्यार की एक बार माँ के पास बैठो तो सही तलाश ख़त्म न हो जाये तो कहना।


जब दर्द हमदर्द से मिलने लगे तो ज़िन्दगी झरनुम-सी लगने लगती है।

 

मोहोब्बत उसकी जगह अगर खुद से की होती तो अकेला पन ज़रूर होता पर ये दर्द नहीं।

 

कुछ बात लफ्ज़ो से बेहतर खामोशियाँ बयाँ कर दिया करती है।

 

“तुझसे अच्छे तो जख्म है मेरे,

उतनी ही तकलीफ देते है

जितनी बर्दास्त कर सकूँ।”

 

“कैसी अजीब सी है ये मोहब्बत की राहें,

रास्ता वो भटक गये और मंजिल

हमारी खो गयी।”

 

“यार से ऐसी यारी रख, दुःख में भगेदारी रख,

चाहे लोग कहे कुछ भी, तू तो ज़िम्मेदारी रख,

वक़्त पड़े काम आने का, पहले अपनी बारी रख.”

 

“क्या लिखूँ दिल की हकीकत आरज़ू बेहोश है,

ख़त पर है आँसू गिरे और कलम खामोश है।”

 

“लोगो को तो सिर्फ अल्फाज़ पढना आता है,

अहेसास तो कोई आशिक ही समज पाता है।”

 

रुकना नहीं है मुसीबतों को देखकर, नदियाँ कभी चट्टानों को देख कर रास्ता बदला नहीं करती।

 

नसीहत देते लोग साथ नहीं देता कोई. वादा करके तो ऐसे तोड़ देते है जैसे नेता हों।

 

ज़माना भी सिर्फ़ उसे याद रखता है जो कामयाबी की बुनियाद रखता है।

 

दौलत और शौहरत से नहीं खुशियाँ अपनों से मिलती है।

 

दुनिया के सारे शौर शराबों से दूर जब अकेला बैठा तब खुद से मिलने का कहीं मौका मिला।

 

अब मिलते नहीं दो दोस्त आपस में ये गलती वक़्त की है या हालात की समझ नहीं आ सका।

 

बेवजह नहीं बदलता कोई करवटे ज़रूर कुछ बेचैनी खाये जा रही है।

 

दर्द में भी सुख है अगर वह तुम से मिला है तो।

 

मालिक तो बस एक है ऊपर वाला बाकी तो बस कुछ दिन के कर्मचारी मात्र हैं।

 Truth of Life Qutoes in Hindi

वादा करा तो दोनों ने था न बिछड़ने का पर मैं निभा अकेला ही रहा हूँ।

 

तेरे साथ वह बीता कल मुझे कल भाई याद था और कल भी रहेगा।

 

फ़र्क़ सिर्फ़ तालीम का ही तो है वरना जुबां तो मैं भी गन्दी कर सकता हूँ।

 

शिखर मैं चढ़ता ही चला जाऊंगा तुम बस मेरे गिरने का इंतज़ार ही करते रहो।

 

सवार मैं बादलों पर हूँ अब मुझे तुम्हारी खबर कहाँ।

 

माना हर जगह कीचड़ है पर मैं भी तो कमल हूँ खिल के ही रहूंगा।

 

कश्ती जिस दिन किनारे से मिलेगी मेरी उस किनारे पर मीनारें मिलेंगी।

 

मिटटी का बना इंसान एक दिन मिटटी में मिल जाएगा, सोना कितना भी कमा ले आखिरी नींद में कुछ भी साथ नहीं जाता।

 

हम चलते चले गए और जलने वाले हमे देख कर जलते चले गए।

 

अपना ऐसा नाम बना दूंगा मैं आसमान को खींच कर ज़मीन बना दूंगा।

 

गरीब को क़रीब से देखा तो समझ सका की पैसा सब कुछ खरीद सकता है पर खुशियां नहीं।

 

सीख रहा हूँ अपनी ख्वाहिशों पर बंदिशें लगाना मैंने अपनी ही रूह को किसी और के लिए तड़पते देखा है।

 

सीखा दिया लोगों ने भी मुझे अपने से मतलब रखना यकीन मानो मैं पहले ऐसा नहीं था।

 

 “सिर्फ ख़ुशी में आना तुम,

अभी दूर रहो थोड़ा परेशां हूँ मैं।”

 

 “जरा ठहर ऐ जिंदगी तुझे भी सुलझा दुंगा,

पहले उसे तो मना लूं जिसकी वजह से तू उलझी है।”

 

“मेरा हक़ नहीं है तुम पर ये जानता हूँ मैं,

फिर भी ना जानें क्यूं दुआओं में तुझ

को माँगना अच्छा लगता है।”

 

 “काश ये दिल बेजान होता,

ना किसी के आने से धडकता ना

किसी के जाने पर तडपता।”

 

“ऐ आईने तेरी भी हालत अजीब है,

मेरे दिल की तरह तुझे भी बदल देते है

यह लोग तोड़ने के बाद।”

“ख़ुश रहने का मतलब ये नही है कि सब कुछ ठीक है,

इसका मतलब है कि आपने अपने दुःखों से उठकर जीना सीख लिया है।”

 

कभी-कभी क्षमताओं का पता जीतने के बाद पता लगता है।

 

माना की पैसा बोलता है पर मैं बहरा हूँ।

 

कुछ अजीब-सा हादसा हुआ है मेरे साथ जिन-जिन को मैंने अच्छे समय से मिलाया था आज उनके पास ही वक़्त नहीं मेरे लिए।

 

सिर्फ़ तेरा होकर रह नहीं सकता मैं मुझे तो सारे ज़माने को अपना दीवाना बनाना है।

 

क़त्ल के लिए खंजर की क्या ज़रूरत मेरे लफ्ज़ ही काफी हैं तुम्हारे लिए।

 

ज़िन्दगी सोचकर गुज़ारने वालो कभी इसे जीकर देखो मजा न आ जाये तो कहना।

 

सलाहकार तो सभी बने हुए हैं ज़माने में, मेरा मक़सद तो कलाकार बनने का है।

 

साजिश की ज़माने ने गिराने की बहुत शायद तभी मेरे सर उठा के चलने पर उन्हें ताज़्ज़ुब होता है।

 

होने वाली है लम्बी ये रात क्योंकि सपनो में मिलने को मुझसे मेरी मेहबूब आने वाली है।

 

तेरे जाने के बाद काली रातों से वफ़ा हो गई मुझे।

 

सब कुछ लगा दिया था मैने मेरा दाव, पर शायद तभी आज बाज़ी मेरी है।

 

एक दफा मैं कुछ ऐसा लिख गया की ऊपर वाले को भी उसकी लिखी क़िस्मत पर शक हो गया।

 

थोड़ा डूबूँगा थोड़ा टूटँगा लेकिन फिर लौट आऊँगा ए ज़िंदगी तू देख मैं फिर जीत जाऊँगा।

 

मैं पूछ लिया ज़िंदगी से, क्यों इतना दर्द दिया वो हँसी और बोली मैं तो तुझे जीना सीखा रही थी। 

 

घड़ी की टिक-टिक को मामूली मत समझो बस यूँ समझ लीजिए ज़िंदगी के पेड़ पर कुल्हाड़ी के वार है।

 

ऊपर वाले की अदालत में वकालत नही होती अगर सज़ा हो जाए तो ज़मानत नही होती।

 

जब भी आपका हौसला आसमान तक जाएगा।याद रखना कोई ना कोई तुम्हारे पंख काटने ज़रूर आएगा। 

 

मुझे ऊँचाइयों पर देखकर हैरान है, बहुत लोग पर किसी ने मेरे पैरों के छालें नही देखे।

 

आपकी क़िस्मत आपको मौक़ा देगी मगर आपकी मेहनत सबको चौका देगी।

 

सर्दी की धुप गर्मी की छाव है वह बड़े समंदर में मेरी छोटी-सी नाव है वह वो मेरी माशूका नहीं है मेरी माँ है।

 

बंद है दिल में राज़ काफी जिस दिन खुल गए सेहलाब आ जाएगा।

 

जीत जाऊंगा उस दिन जिस दिन जानेंगे लोग बाप को मेरी वजह से।

 

शिखवे और शिकायते कायर करते हैं समझदार और सहनशील लोग कोशिश करते हैं।

 

अच्छाई बांटने निकला था रास्ते में नफरत पसंद आ गई।

 

मुझे नहीं आती पतंग-सी चालाकियाँ गले मिलकर गला काट दूँ वह मांझा हूँ मैं।

 

चाहते थे मिटाना उसे अपने दिलो-दिमाग से पर दुआओं में वापस उसी को मांग बैठे।

 

एक दिन भी निभा नहीं पाएंगे मेरा किरदार जो लोग मुझे मशवरे देते हैं हज़ार।

 

घड़ियाँ तोहफे में काफी आयी जन्मदिन पर मेरे अपने मेरे लिए वक़्त न निकल पाए।

 Heart Touching Quotes in Hindi

“बहुत दर्द होता है, उस वक़्त जब हम अंधे की तरह

किसी पर विश्वास करे और वो हमें महसूस करा दे,

हम वाक़ई अंधे है।”

 

“टूट कर भी कम्बख्त धड़कता रहता है,

मैंने इस दुनिया में दिल सा कोई वफादार नहीं देखा।”

 

कौन कहता है वक़्त किसी का नहीं होता, मैने मेरे ही वक़्त को मुझे बर्बाद करते देखा है।

 

भीख के शहरी किले मुझे नहीं भा,ते मैं तो जीता हूँ अपने गांव की कुटिया में नवाबों की तरह।

 

अभी ज़रा वक़्त है उसे मुझे आज़माने दो वह रो-रो के पुकारेगी बस मेरा वक़्त तो आने दो।

 

मौसम भी मेरी ज़िन्दगी का अजीब बदला, सब बदल गए पर ना जाने क्यों मैं ना बदला।

 

बैठा हूँ आज कुछ रिश्तों का हिसाब करने, गर वफाओं में तुझे रख दिया तो बाकी रिश्ते नाराज़ हो जेएंगे।

 

सोचता हूँ अगर कुछ ख्वाहिशे अधूरी न होती तो, जीने में मज़ा क्या आता।

 

तुम चीखते रहो मेरे बारे में तुहारा गला बैठ जाएगा मेरा होंसला नहीं।

 

कामयाबी की फसल मेहनत से उगती है किसी की रहमत से नहीं।

 

मौत भी दूर चली गयी जब माँ ने मेरी आशीर्वाद के लिए हाथ सर पर रख दिया।

 

लगा दो खरोचें जितनी मर्ज़ी मेरे किरदार पर मेरा रब मुझ पर आंच भी नहीं आने देगा।

 

दोस्ती दफ़न हो गयी कफ़न में जब दो दोस्त खुद को बड़ा साबित करने में लग गए।

 

हमने प्यार में जो जान देने की बात कही वह हमसे मतलब निकलने लगे।

 

जल्दी बड़ा होने की दुआ करी थी भगवान् से अब कोस रहा हु क्यों करी थी।

 

फुर्सतों का पता जब ढूंढ़ने की कोशिश की तो पता लगा वह तो सिर्फ़ मौत में है।

 

कामयाबी और जलन एक ही रास्ते के दो राही हैं।

 

विरासत में शान मिली है मेरे माँ बाप की बदौलत ही जान मिली है।

 

सही उम्र में ही सही ग़लत में फ़र्क़ कर लेना ही परिपक़्वता कहलाती है।

 

भर दो कितनी भी मिटटी नहीं दफना पाओगे मेरे गहरे विचारो को।

 

मृत्यु ही मोक्ष है जीवन तो एक भ्रम से बढ़कर और कुछ नहीं।

 

सवाल उठे मेरी सादगी पर, पर मैं नहीं बदला।

 

हमसे लोगों को यही परेशानी है कि हमे लोगों से कोई परेशानी ही नहीं है।

 

जिसने भी अनदेखा करा है मुझे अंधे-सा, दिखा दूंगा मैं जोर तुम्हे मेरे कंधे का।

 

जहाँ सफाई देनी पड़े हर बार इतने गंदे रिश्ते तोड़ देना ही बेहतर है।

 

रिश्ते निभाने का हुनर तो दुश्मनो से सीखा दोस्तों ने तो दग़ाबाज़ी का ही पाठ पढ़ा था।

 

लोगों के राग मुझे समझ नहीं आते मैं तो अपनी धुन में चलना पसंद करता हूँ।

 

किसी की मदद करने से पहले मुझसे धर्म नहीं देखा जाता मैं आदमी नहीं इंसान हूँ।

 

मेरे हालातों की वजह से मैं गरीब लगता हूँ पर होंसले तो आज भी अमीरों से अमीर है मेरे।

 

झुक जाता हूँ सबके सामने प्यार से लेकिन अपने बाप का सर किले सा ऊँचा करना मेरी ख्वाहिश है।

 

हर गज का हिसाब रखता हूँ किसी का उधार अपने सर पर नहीं लेके जाऊंगा वादा करता हूँ।

 

कब्र की मिटटी हाथ में लिए सोच रहा हूँ जब लोग मर जाते हैं तो गुरूर कहाँ पड़ा रह जाता है।


यक़ीन मानो बुराई का कोई रिश्ता नहीं है मज़हब से, दिलदार इंसान दिल से बात करता है और मतलबी इंसान मतलब से।

 

जो तेरी बातों को अनसुना कर दे उनकी बातों को तू ज़रा कम सुना कर।

 

इस ज़िन्दगी के कठघरे में वक़्त ही वकील है और वक़्त ही अदालत है।

 

 “हिम्मत इतनी थी की समुंदर भी पार कर सकते थे,

मजबूर इतने हूए की दो बूँद आँसूओ ने डूबो दिया हमें।“

 

 “ज़िंदगी तो कब की ख़त्म हो चुकी है,

अब तो सांसों का इलाज करते हैं और

वो इस पर भी एतराज़ करते है।”

 

इतना भी आसान नहीं होता अपनी जिन्दगी जी पाना,

बहुत लोगो को खटकने लगते है जब हम खुद को जीने लगते है।

 

 “दिल खामोश सा रहता है आज कल,

मुझे शक है कहीं मर तो नहीं गया मैं।”

 

“आपसे जो भी झुक कर मिलता होगा,

यकीनन उसका कद आपसे ऊँचा होगा।”

 

“जो लोग अन्दर से मर जाते है,

अक्सर वही लोग दूसरो को जीना सिखाते है।”

 

“जिन्हें मालूम है कि अकेलापन क्या होता है,

वो लोग हमेशा दूसरो के लिए हाजिर रहते है।”

 

जब पैसा पास था सारे सांप रेंग कर मेरे तलवे चाटा करते थे, अब पैसा जाते ही मानो मेरे हाथ में लाठी आ गई है।

 Heart Touching Life Quotes in Hindi

जुबां आईने-सी साफ़ रखने वाले अक्सर लोगो की आँखों में कांच से चुभा करते हैं।

 

कुछ करना चाहते हो तो खुद करना होगा और सारी दुनिया से लड़ने से पहले खुद ही से युद्ध लड़ना होगा।

 

क्यों न नाज़ हो मुझे अपनी मोहोब्बत पर वो अपनी माँ की मोहब्बत की लाज रख कर, मेरी मोहब्बत को भुला रहा है।

 

हवा के रुख बदलने से कैसा खौफ, मैने तो अपनों को भी वक़्त पर बदलते हुए देखा है।

 

मेरी क़ाबिलियत का अंदाजा इसी बात से लगा लो की लोग मुझे गिराने की कोशिश नहीं साजिश किया करते हैं।

 

फरेब की आशिकी का ज़माना है अब कपड़े उतरा करते है जिस्म से इश्क़ के नाम पर।

 

लड़को की ज़िन्दगी आसान कहाँ साहब खुअहिशे मर जाती है उनकी ज़िम्मेदारियों के नीचे आ कर

 

लड़को की ज़िन्दगी आसान कहाँ साहब खुअहिशे मर जाती है उनकी ज़िम्मेदारियों के नीचे आ कर।

 

सीख जाते अगर मीठे झूठ बोल पाने का हुनर, तो ना जाने कितने रिश्ते बच जाते टूटने से।

 

ज़िम्मेदारियों के बाज़ार में फ़ुरसतें न जाने कहा खो कर रह गई मेरी।

 

डूब रहा था जब तो समंदर को भी हैरानी हुई सोचने लगा कैसा शक्श है किसी को पुकारता ही नहीं।

 

वक़्त के दलदल में ज़िन्दगी कब सिमट जाती है खबर ही नहीं मिलती।

 

हर दलदल से बहार निकल आता हूँ शायद मेरी माँ मेरे लिए दुआओं में याद कर रही है।

 

एक बात सीखी है रंगो से, अगर निखरना है तो बिखरना ज़रूरी है।

 

ज़िंदगी में इंसान की परेशानी की सिर्फ़ दो वजह है  एक तक़दीर से ज़्यादा चाहता है  और वक़्त से पहले चाहता है। 

 

अगर दूसरों के दुःख को देखकर आपको भी दुःख होता है तो समझ लेना भगवान ने आपको इंसान बनाकर कोई ग़लती नही की।

 

ये सोच है हम इंसानो की कि एक अकेला क्या कर सकता है पर देख ज़रा उस सूरज को वो अकेला ही चमकता है।

 

“रिश्ते का अंत किसी रिश्ते का अंत तब होता है, जब एक का हद से ज्यादा प्यार और परवाह दूसरे को बोझ लगने लगता है!”

 

गर्म कपड़ों के सारे बैग खुल गए प्यार से बुना कोई स्वेटर नहीं निकला।

 

अगर जिस्म से लिपटना ही मोहब्बत है तो अज़गर से बड़ा कोई महबूब नहीं।

 

गरीब अक्सर तबयत का बहाना बनाकर मजबूरियाँ छुपा जाते हैं।

 

थक कर बैठना मंज़ूर है मुझे, राहो में पर गिरकर हार जाना यह मंज़ूर नहीं।

 

समझ गया कलियुग चल रहा है, जब दोस्त और मौसम दोनों बेमौसम बदलने लगे।

 

जुबां खोलते हो धुआँ निकल रहा है, अब कुछ बोलूंगा तो आग लगनी तय है।

 

दुनिया वाले खुद से ऊपर किसी को मानते नहीं है, और फिर लोग कहतें हैं ऊपर वाले पर भरोसा रखो।

 

मैने अपनी सोच को इतना ऊपर कर लिया है कि खुदा भी अब मेरी खुअहिशों को मंज़ूर करने लगा है।

 

कामयाब होना है तो जुबां बंद और कान दोनों खुले रखने होंगे।

 

थक जाओ जो नफरत करते-करते हमे, कभी बैठना हमारे पास प्यार से आके।

 

पास तो सभी के पास होता है प्यार, बस कुछ छुपाने म विश्वास रखतें है तो कुछ बांटने में।

 

आग तो भरी पड़ी है सच्चाई की मेरे अंदर भी, पर फिलहाल शोले उगल कर ही काम चला रहा हूँ।

 

बस अपनी और अपनों की ज़िंदगियाँ बदल दूँ इसी ख्याहिश में जी रहा हूँ।

 

ज़िन्दगी का हिस्सा नहीं अब तू ज़िन्दगी बन चुकी है।

 

अपने ज़मीर का ज़मींदार शुरुवात में हर कोई होता है बस कुछ लोग उसे किसी और को बेचकर खुद उनके किराएदार हो जाते हैं।

 

हम हारेंगे या जीतेंगे अब बाद में देखेंगे, अब चलने निकले हैं तो चलते रहेंगे तुकेंगे कहाँ ये बाद में देखेंगे।

 

कश्तियाँ हज़ारों की तादाद में किनारे पर ही खड़ी थी हमने एक टक न देखा उनकी तरफ क्यूंकि हमे तो दरिया तैर कर पार करने की पड़ी थी।

 

मैं अभी मौन हूँ इसीलिए तुम जानते नहीं अभी मुझे मैं कौन हूँ।

 

लिबाज़ छोटे हो गए तो कुछ ने नज़रें खराब कर ली गलती सोच की थी और दोष लड़की पर डाल दिया।

 

कभी-कभी जो कुछ भी नहीं किया करते वह विजेता बन जाते है। मेहनत करने वाले सरकारी नौकर बनते हैं और बैठ कर खाने वाले नेता बन जाते हैं।

 

जो मेरे फाटे जूतों के संग चलने का जो मज़ाक बनाते हैं अगर वो जूते उन्हें पहनने पड़ जाए तो एक क़दम भी नहीं चल सकेंगे।

 

ज़िन्दगी तब बदल जाती है जब बदला लेने की आदत बन्दे की बदल जाती है।

 

हमने उनके कुछ राज़ पर्दा करने थे उन चुगलियों की महफ़िल में वो इतने तेज़ निकले की उन्होंने मुद्दा ही बदल दिया।

 

हाँ नहीं है मेरे पास लाखों चाहे वालों की फ़ौज पर ये भी तो देखो की मैं उनमे से नहीं जो लाखों को चाहता हो।

 

तुझे प्यार करना अब मेरे बस में नहीं पर तुझे मानाने के लिए हाथ पैर जोड़ना तो मेरे बस के बहार है।

 

याद है मुझे वो Bus की बात जब तुझसे दो पल बात करना ही मेरे बस के बहार हो गया था।

 

गलती किसकी ये कोण फैसला करेगा जब फैसला करने वाले ही गुन्हेगारों के डर से चुप हो रखे हैं।

Tags - Very heart touching sad quotes in hindi, Zindagi Quotes in Hindi, Truth of Life Qutoes in Hindi, Heart Touching Quotes in Hindi, Heart Touching Life Quotes in Hindi.

हर दिन नये नये स्टेटस और शायरी पाने के लिए अभी Bookmark करें StatusCrush.in को।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां