300+ बेवफा स्टेटस - Bewafa Status in Hindi 2022

हेलो दोस्तों, अगर आपको भी कोई बेवफा इंसान मिला है तो आज की इस पोस्ट में हम बेवफा स्टेटस शायरी लाये है। आप इन स्टेटस को अपने सोशल मीडिया के जरिये उस इंसान से शेयर कर सकते है। जो बेवफा है। 

Bewafa Status

बेवफा स्टेटस - Bewafa Status & Quotes in Hindi 2022

#गलती तेरी नहीं है ☝️की तूने मुझे #धोखा दिया,😪

गलती #मेरी थी जो मैंने तुझे #मौका🤐 दिया !!


कितनी जल्दी #फैसला कर लिया तुमने जाने का,🤧

एक #मौका🤨 तो देते हमे मनाने का !!


उस #इंसान👤 के लिए आखिर कब तक #रोता 😭रहूँगा,

जो हमे #छोड़ 🤔कर किसी और के साथ #खुश😮 हैं !!


एक बात बोलू..🗣

#इम्तेहान लेते हो मेरा 😕या सच में मेरी #याद नहीं 😭आती !!


#आज फिर इस #तन्हा रात🌙 में इंतज़ार है उसका,

जो कहा करते थे💬 तुमसे बात न करू तो #नीद नहीं ☝️आती !!


कुछ लोग #Single😕 इसीलिए होते है,

क्यकी वो #Relationship 💑को #Time Pass नहीं ❌समझते !!


लगी है #चोट दिल🤕 पे दिखा नहीं सकते,

भुलाना भी #चाहे तो भुला नहीं☝️ सकते,

#मोहब्बत💑 का अंजाम यही होता है,

जिस के लिए #तरसते😩 है वो ही धोखा दे 🤨जाता हैं !!


अगर नहीं था प्यार तो बता देती मुझको,

तेरी ख़ामोशी ने मेरी ज़िन्दगी को बर्बाद कर दिया..!!


बड़े अजीब लोग है इस दुनियां में जिनकी ज़िन्दगी के अजीब से मक़सद है,

खुद चाहे बेवफा है मगर तलाश वफ़ा की है..!!


जिसकी मोहब्बत में सारी हदें पार करदी थी कभी हमने,

आज उसी ने हमें हदों में रहना सिखा दिया..!!


मैं अब भी तुमसे मोहब्बत करने के लिए तैयार हूँ,

बस जितने दिन तक वफ़ा करोगी उतना मुझे वक़्त बता दो..!!


तन्हाई में जीना सीखलो अभी भी वक़्त है,

मोहब्बत चाहे जितनी सच्ची ही क्यों ना हो साथ छोड़ ही जाती है..!!


मुझसे मोहब्बत का दिखावा नहीं कर ए पगली,

मुझे पता है मोहब्बत की जो तेरी डिग्री है वो फ़र्ज़ी है..!!


हम जाते थे मंदिर-मस्जिद मांगने जिसकी खैर,

वो हमें छोड़कर गए समझ कर कोई गैर..!!


एक बार दिल से पुकार कर तो देखो,

आज भी तेरी ज़बान से मेरा ही नाम अच्छा लगेगा..!!


अब कोई नहीं ख़रीदेगा तुम्हारे आँसुओ को हीरो के दामों में,

वो जो दर्द का सौदागर हुआ करता था मोहब्बत छोड़ दी उसने..!!


तुने जो मिटा डाला था मुझको बेवफा,

मेरी पाक मुहब्बत की एक तासीर अभी बाकी है..!!


बेवफाओं की इस दुनिया में संभल कर चलना,

यहाँ मोहब्बत से भी बरबाद कर देतें हैं लोग..!!


आता नहीं ख्याल अब अपना भी ऐ ‘जलील’,

एक बेवफा की याद ने सब कुछ भुला दिया..!!


किसी बेवफ़ा की ख़ातिर ये जुनूँ ‘फ़राज़’ कब तक,

जो तुम्हें भुला चुका है उसे तुम भी भूल जाओ..!!


सितम है लाश पर उस बेवफा का यह कहना,

कि आने का भी न किसी ने इंतज़ार किया..!!


हम तरसते रहे तुम्हारा प्यार पाने को,

बेवफा बनकर तुम तो मशहूर हो गए..!!


अब भी तड़प रहा है तू उसकी याद में,

उस बेवफा ने तेरे बाद कितने भुला दिए..!!


सर झुकाओगे तो पत्थर देवता हो जाएगा,

इतना मत चाहो उसे वो बेवफ़ा हो जाएगा..!!


इतनी मुश्किल भी न थी राह मेरी मोहब्बत की,

कुछ ज़माना खिलाफ हुआ कुछ वो बेवफा हुए..!!


ज़्यादा कुछ तो नहीं माँगा था हमने तुमसे,

एक साथ ही तो माँगा था वो भी ना दे पाए तुम..!!


इसमें में भी शुक्र अदा करता हूँ तुम्हें हासिल ना कर पाए हम,

अगर हासिल होकर बिछड़ते तो सच में क़यामत होती..!!


मुझे मालूम था कि तेरी मोहब्बत के हर जाम में ज़हर है,

मगर पिलाने में मोहब्बत इतनी थी चाहकर भी मना ना कर सकें हम..!!


बेवफा लोगों को मुझसे बेहतर और कौन जान सकता है,

मैं तो वो दीवाना हूँ जिसने किसी की नफ़रत से भी मोहब्बत की है..!!


बेशक़ तू चाहे जितनी अपनी मोहब्बत बदले,

लेकिन तेरे हर झूठ को मेरे सिवा सच कोई नहीं मान सकता..!!


अफ़सोस इस बात का है मैं फ़ना हो गया और वो बदली तक नहीं,

मेरी मोहब्बत से भी ताक़तवर नफ़रत रही उसकी..!!


मेरे मरने के बाद मेरी मौत की खबर उसको ना देना दोस्तों,

मुझे डर है कहीं वो इस ख़ुशी को सुनकर पागल ना हो जाए..!!


मेरे दिल में तन्हाइयों का एक काफ़िला हुआ है,

जब से तेरे मेरे दरमियाँ ये फासला हुआ है..!!


मैं मर सकती हूँ तुमसे जुदा नहीं हो सकती,

उसके बस एक इस लफ्ज़ ने मुझे बर्बाद कर दिया..!!


अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे कहने लगी है,

इश्क़ मुझसे करलो मैं बेवफा नहीं हूँ..!!


हमने तो अपनी जान समझा था उसको,

मगर ये भूल गए थे! कि जान तो एक दिन जानी ही होती है..!!


शौक से तोड़ो मेरा दिल पर थोड़ी तो फ़िक्र करो,

तुम्हीं रहते हो इसमें अपना ही घर उजाड़ोगे क्या..!!


बनाकर अपने वजूद का मुरीद छोड़ देते हैं लोग,

इस तरह से मोहब्बत का सिला देते हैं लोग..!!


तब तक तुम डालते जाओ शराब मेरे प्यालों में,

जब तक निकल ना जाए वो मेरे ख्यालों से..!!


बदनसीब ज़रूर हूँ लेकिन दिल का बुरा नहीं हूँ,

तेरी बेवफ़ाई को भी उम्र भर याद करूँगा..!!


मोहब्बत का उनकी ये एक नया दौर है,

जहाँ कल तक मैं था आज वहाँ कोई और है..!!


कह दिया उसने मुझको ही बेवफा,

मुझे छोड़ने के लिए कोई बहाना न मिला..!!


उसके तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई,

जी नहीं मानता कि वो बेवफ़ा पहले से था..!!


उस बेवफ़ा का शहर है और वक़्त-ए-शाम है,

ऐसे में आरज़ू बड़ी हिम्मत का काम है..!!


मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा,

जिन्हे दावा था वफा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा..!!


न जाने क्या है..? उसकी उदास आंखों में,

वो मुँह छुपा के भी जाये तो बेवफा न लगे..!!


हमें भी आ पड़ा है दोस्तों से काम कुछ यानी,

हमारे दोस्तों के बेवफ़ा होने का वक़्त आया..!!


शिकायत उस से नहीं अपने-आप से है मुझे,

वो बेवफ़ा था तो मैं आस क्यूँ लगा बैठा..!!


कुछ तो मजबूरियाँ रही होंगी,

यूँ कोई बेवफ़ा नहीं होता..!!


रोज़ रोते😓 हुए कहती है #ज़िन्दगी,

एक #बेवफ़ा के लिए मुझे #बर्बाद🙁 मत कर !!


तुम तो कहते थे🗣 हर शाम तुम्हारा #इंतज़ार करेगे,

अब बताओ तुम बदल गये😞 या तुम्हारे यहा #शाम😦 नहीं होती !!


तेरी #Call आये📲 या ना आई, तुझसे #बात हो ना हो,

मगर तेरा #ख्याल💭 तो जरूर आ जाता हैं !!


ज़रा सा भी नहीं #पिघलता😫 दिल❤️️ तुम्हारा,

इतना #कीमती _पत्थर कहा😓 से ख़रीदा !!


मुझको #छोड़ने की वजह 😧तो बता देते,

मुझसे #नाराज😨 थे या मुझ जैसे हज़ार😤 थे !!


अब हम सिर्फ #दोस्त👥 है.. कुछ इस तरह🤨 भी हुआ करती है अधूरी #मोहब्बत 🤧की कहानियाँ !!


#भूल गए है😦 कुछ लोग #मुझे इस तरह,😑

यकीन #मानो की यकीन ही🤔 नही आता !!


तुम तो मुझे आँसुओ का सैलाब देकर चले गए,

अब मैं किस से पूछूँ मेरी खता क्या थी..!!


मुझे मालूम है कि मैं उसके बगैर जी नहीं सकता,

उसका भी शायद यही हाल है मगर किसी और के लिए..!!


लिख कर भी क्या हासिल कर लूँगा मैं अपनी दिले दास्तां,

मेरी हर बात तो झूठी लगती है उस बेवफा को..!!


मुझसे इतनी ही नफ़रत करती हो तो कोई ऐसी दुआ माँग,

जिससे तेरी दुआ भी पूरी हो और मेरी ज़िन्दगी भी..!!


उसे भूल जाने का मशवरा और अपनी ज़िन्दगी बनाने की सलाह,

ये दो तोहफ़े दिए थे उसने मुझे आख़िरी मुलाक़ात में..!!


मैं क्यों सोच कर अपने दिल को मायूस करूँ,

उसकी जितनी औकात थी उसने उतनी ही वफ़ा की..!!


बहुत ही अजीब रिश्ता है,

दिल आज भी धोखे में है और धोखेबाज़ दिल में है..!!


बहुत ही बारीकी से तोड़ा है उसने मेरे दिल का हर एक कोना,

सच कहूँ तो मुझे आज भी उसके हुनर पर नाज़ होता है..!!


इससे बड़ी सज़ा और क्या होगी मेरे लिए,

कि आज मैं उसके बिना रहने लगा हूँ..!!


अगर वो ज़हर देकर मारते तो दुनिया की नज़र में कातिल हो जाते!

अंदाज़े क़त्ल देखिये जनाब इश्क़ करके छोड़ दिया..!!


अच्छा चलो सारे किस्से कहानियाँ छोड़ो एक बात बताओ,

इंतेज़ार करूँ या तुम्हारी ही तरह बदल जाऊँ..!!


बहुत भीड़ हो गयी है तेरे दिल में,

अच्छा हुआ जो हम ठीक वक़्त पर निकल गए..!!


बेवफाओं की इस दुनिया में ज़रा संभल कर चलना!

यहाँ बर्बाद करने के लिए लोग मोहब्बत का सहारा लिया करते हैं..!!

Bewafa Quotes in Hindi

मैं मर सकती हूँ तुमसे जुदा नहीं हो सकती,

उसके बस एक इस लफ्ज़ ने मुझे बर्बाद कर दिया..!!


बहुत भीड़ हो गयी है तेरे दिल में,

अच्छा हुआ जो हम ठीक वक़्त पर निकल गए..!!


बेवफाओं की इस दुनिया में ज़रा संभल कर चलना!

यहाँ बर्बाद करने के लिए लोग मोहब्बत का सहारा लिया करते हैं..!!


कोई #रिश्ता👫 निभाना है तो दो आँखों 👀की तरह निभाओ,

साथ जगती है, साथ सोती😴 है,

साथ हसती😃 है, साथ रोती है,😭

और एक #दिन हमेशा के लिए बंद☹ हो जाती हैं !!


#तमाशा बना के रखा है लोगो ने👉 प्यार का,

पहले #करीब आते है #प्यार💑 जताते है और फिर बिना कसूर #छोड़ कर 😭चले जाते हैं !!


मुझे #खामोश😷 देखकर इतना हैरान क्यों होते हो 😦#दोस्तों,

कुछ नहीं हुआ है बस #भरोसा😫 करके धोखा खाया हैं !!


#कमाल का शख्स🙍‍♂️ था वो..

जिसने #जिंदगी तबाह😫 कर दी,

राज की बात है,🗣

#दिल❤️️ उससे आज भी #खफ़ा नही !!


मेरी #कहानी📖 बस इतनी सी है की अपनी #ख़ुशी😨 की खातिर मुझे छोड़ दिया🤔 उसने !!


उसका प्यार भी बड़ा अजीब सा प्यार था,

धोखा भी खुद ही देती थी और इल्ज़ाम भी खुद ही लगाती थी..!!


हमने तो कबके उतार दिए तेरी मोहब्बत के सारे क़र्ज़,

अब हो सकें तो मेरे ज़ख़्मो का हिसाब करदो..!!


इस तरह खुद को ऑनलाइन दिखा कर मुझे ना तड़पा,

जब साथ छोड़ दिया है तो ब्लॉक भी मार दे..!!


शायद परिंदो की फितरत से आए थे वो मेरे दिल में,

ज़रा से पंख क्या निकले आशियाना ही बदल लिया..!!


लाखों ज़ख्म खाएं हैं एक और ज़ख्म सह लेंगे,

तू लेजा अपनी डोली ख़ुशी से हम तो अपने जनाज़े को ही अपनी बारात कह लेंगे..!!


हमें क्या मालूम था उनकी दुनियां में हम जैसे हज़ारों हैं,

हम ही पागल निकले जो उन्हें पाकर मगरूर हो गए थे..!!


बुरा ना कहो इश्क़ को ए दुनियां वालों,

मोहब्बत तुम्हारी बेवफा निकली और बुरा इश्क़ को कहते हो..!!


गुज़र गया वो वक़्त जब तेरी तलब थी मुझको,

अब तो तू ज़िन्दगी भी बन जाए तब भी क़ुबूल ना करूँ..!!


हो सकें तो अपनी भलाई के लिए दूर रहो मुझसे,

बहुत टूटा हुआ हूँ कहीं से चुभ सकता हूँ..!!


तेरी यादें आज भी मेरे पास आती हैं,

हो सकें तो अपनी तरह इनको भी बेवफ़ाई सिखा दो..!!


लाश तो किसी बदनसीब ही लग रही थी,

मगर कातिल के पैरों के निशान काफ़ी हसीन थे..!!


अगर आँसुओ की क़ीमत लगाई जाती तो,

आज भी मेरा तकिया लाखों में बिकता..!!


तुम बेवफा नहीं हो ये तो मेरे दिल की हर धड़कन कहती है,

लेकिन अपनी मजबूरियों का कम से कम एक पैग़ाम तो भेज ही देते..!!


आज बहुत अजीब से तमन्ना हो रही है मेरे दिल में,

कोई मुझे टूटकर चाहे और मैं बेवफा बन जाऊं..!!


बेवफ़ाई क्या होती है ये हम भी तुझे बता सकते थे,

मगर तू रोए ये हमें गवारा नहीं है..!!


वो कहता है कि मजबूरियां हैं बहुत,

साफ लफ़्ज़ों में खुद को बेवफा नहीं कहता..!!


गर हमें तेरी बदनामियों का डर न होता,

न तू बेवफा कहती… न मैं बेवफा होता..!!


मेरी मौत के बाद मेरा दिल निकाल कर उसको दें देना,

मैं चाहता वो हमेशा खेलती रहे..!!


ले जाओ अपने झूठे वादों के अधूरे किस्से,

दूसरी मोहब्बत में तुम्हें इनकी फिर ज़रूरत पड़ेगी..!!


तुम #किसी👫 के साथ कितना भी #अच्छा😊 क्यों न कर लो,

पर #Time⏰ आने पर लोग अपनी #औकात😣 दिखा ही देते हैं !!


मुझे #मालूम है तुम बहुत #खुश🤔 हो इस #जुदाई से,☹️

अब अपना #ख्याल 🗣रखना कही तुम्हे कोई #तुम्हारे जैसा ना☝ मिल जाए !!


आज कल #लोगो👥 को अपना 👉प्यार भी,

#Free_Time⌚ पर याद आता हैं !!


एक #Medal 🥇मेरे प्यार को भी दे दो कोई,

जो #वक़्त से भी तेज़ बदल🤨 गया !!


#तुम 🙎तो रह लेते हो हमारे बिना,

पता नहीं #हमसे क्यों नहीं🙄 रहा जाता तुम्हारे बिना !!


आखिर #ज़िन्दगी🤔 ने भी पूछ🗣 ही लिया कहा है वो👉 #शख्स,

जो तुम्हे #मुझसे भी ज्यादा प्यारा😫 था !!


इतने भी बुरे नहीं थे हम जो ठुकरा दिया तुमने,

एक दिन तेरे खुद के फैसले पर तुझे अफ़सोस होगा..!!


प्यार तो मेरा सच्चा था इसलिए आज भी तेरी याद आती है,

अगर तेरी बेवफ़ाई सच्ची है तो यादों में मत आना..!!


पत्थर दिल हूँ फरेबी हूँ और बहुत ज़्यादा ज़िद्दी भी हूँ,

क्योंकि अब मासूमियत खो दी मैंने वफ़ा करते-करते..!!


उन पंछियों को मैं कभी भी अपने दिल के पिंजरे में कैद नहीं रखता,

जो मेरे दिल के पिंजरे में रहकर किसी और के साथ उड़ने का ख़्वाब देखते हो..!!


बहुत दूर तक चले आए थे तेरी झूठी कसमों को सच्चा मानकर,

अब मोहब्बत के पँखो से दिखाऊंगा तुझे मैं नफरत की उड़ान..!!


सुनने में आया है कि तुमने नफ़रत की दुकान खोल ली है,

मेरी एक बात मानना थोड़ी मोहब्बत भी रख लेना दिखावे के लिए काम आएगी..!!


मोहब्बत सच्ची रही और सनम बेवफा ना निकला,

ये कहानी कुछ अधूरी सी लगती है..!!


मैंने तो उसे हीरे की तरह तराशा तो बहुत था,

मगर वो जात की पत्थर थी और पत्थर ही रह..!!


तेरी हालत से लगता है तुझे बर्बाद करने में तेरे अपनों का ही हाथ है,

वरना इतनी सादगी से बर्बाद कोई गैर तो नहीं कर सकता..!!


मेरे दिल की हालत भी मेरे देश जैसी ही है,

जो भी हुक़ूमत करता है बर्बाद ही करता है..!!


बहुत ही अजीब लड़की थी वो यार,

पहले मेरी ज़िन्दगी बदली फिर खुद ही बदल गयी..!!


आख़िरी दीदार करले मेरी लाश तेरी गली से गुज़र रही है,

देखले मैंने मरने के बाद भी रास्ता नहीं बदला..!!


वो जमाने में यूँ ही बेवफ़ा मशहूर हो गये दोस्त,

हजारों चाहने वाले थे किस-किस से वफ़ा करते..!!


फिर से निकलेंगे तलाश-ए-ज़िन्दगी में,

दुआ करना इस बार कोई बेवफा न निकले..!!


तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,

बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी..!!


मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा,

जिन्हें दावा था वफ़ा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा..!!


रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लिपट के,

ऐसा लगा के जैसे कभी बेवफा न थे वो..!!


काम आ सकी न अपनी वफायें तो क्या करें,

उस बेवफा को भूल न जाये तो क्या करे..!!


किसी का रूठ जाना और अचानक बेवफा होना,

मोहब्बत में यही लम्हा कयामत की निशानी है..!!


मेरी तलाश का जुर्म है या मेरी वफा का क़सूर,

जो दिल के करीब आया वही बेवफा निकला..!!


हमारे हर सवाल का सिर्फ एक ही जवाब आया,

पैगाम जो पहूँचा हम तक बेवफा इल्जाम आया..!!


तुम समझ लेना बेवफा मुझको, मै तुम्हे मगरूर मान लूँगा,

ये वजह अच्छी होगी, एक दूसरे को भूल जाने के लिये..!!


शायद हम ही बेवफा थे कि झटके से उनके दिल से निकल गए,

उनकी वफा तो देखिये कि अब तक दिल में घर किए बैठे हैं..!!


मोहब्बत का जूनून तो अब पूरा हो चूका है,

अब बारी ज़ख्मो को गिनने की है..!!


लफ़्ज़े इश्क़ तो वैसे ही अधूरा है,

गौर से देखो दोस्तों बेवफ़ा लफ्ज़ पूरा है..!!


बस यही सोचकर मैंने उससे कोई दवा नहीं मांगी,

जो ज़ख्म देता है वो दवा कैसे दे सकता है..!!


ऐ मेरा जनाज़ा उठाने वालो, देखना कोई बेवफा पास न हो,

अगर हो तो उस से कहना, आज तो खुशी का मौका है उदास न हो..!!


वो बेवफा हर बात पे देता है परिंदों की मिसाल,

साफ साफ नहीं कहता मेरा शहर छोड़ दो..!!


अब मायूस होकर क्यों बैठे हो उसकी बेवफाई पर ए दोस्त,

तुम खुद ही तो कहते थे वो सबसे अलग है..!!


गुमराह किया होता तो हम भी आज किसी की आरज़ू होते,

बस गलती इतनी सी हुई कि दिल को खोल कर रख दिया..!!


मेरी नज़र में तो एकतरफा मोहब्बत ही सबसे अच्छी है,

क्योंकि इसमें कोई बेवफा तो नहीं कहलाता है..!!


तेरे इश्क़ का सुरूर था जो खुद को बर्बाद कर बैठा,

वरना दुनियां आज भी तुझसे ज़्यादा मेरी दिवानी है..!!


देख हम दोनों बिछड़ कर कितने रंगीले हो गए,

आँखे लाल मेरी हो गयी और हाथ पीले तेरे हो गए..!! 

हर दिन नये नये स्टेटस और शायरी पाने के लिए अभी Bookmark करें StatusCrush.in को।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ