100+ जिंदगी की सच्ची बातें | Sachi Baate in Hindi 2022


Sachi Baate in Hindi

100+ जिंदगी की सच्ची बातें | Sachi Baate in Hindi 2022

जिनको खुद के उपर हौसला होता है वो अक्सर

ही दुसरो के हाथ के निचे इतराया नही करते है।


मुँह के आगे अलग और पीठ के

पीछे अलग बोलने वालों से हमेशा

सोशल डिस्टेंस बना कर रखिये

ऐसे लोग कोरोना से भी खतरनाक होते है।


पैर में लगने वाली चोट हमें संभल कर चलना

सिखाती है, वहीं मन में लगने वाली चोट

हमें संभल कर जीना सिखाती है।


समय से ज्यादा सिर्फ उन्हीं रिश्तों की कदर करो,

जिन्होंने समय पर आपका साथ दिया है।


बात करने के लिए वक़्त और शब्द

नहीं बल्कि मन होना चाहिए।


जिसकी सोच में आत्मविश्वास की महक है

जिसके इरादों में हौसले की मिठास है

और जिसकी नीयत में सच्चाई का स्वाद है

उसकी पूरी जिन्दगी महकता हुआ गुलाब है।


टुटा हुआ विश्वास और छूटा हुआ बचपन

जिंदगी में कभी दुबारा वापस नहीं मिलता।


मंजिल केवल उन्ही के कदमो को चूमती है

जो रास्ते का मजा लेकर सफर पर निकलते है

और मेहनत की धुन को गाते हुए मंजिल के पास पहुचते है।


आपका परिवार कितना अमीर है ये मायने नही रखता,

आपका परिवार कितना ख़ुश है ये बहुत मायने रखता है…


रोना कमजोरी नही होती

कभी कभी तो लेने

से इंसान मजबूत हो जाता है।


जब मर्द की आंखों से आंसू छलकने लगें,

तो समझ लो मुसीबत पहाड़ से भी बड़ी है…


दूसरे का सुख देखकर दुखी होने वाला

कभी सुखी नहीं हो सकता…


तमाशा लोग नही हम खुद बनाते हैं अपनी ज़िन्दगी का,

किसी को अपनी कमजोरी बता कर…


वक़्त कोयले को भी हीरा बना देता है,

इसलिए किसी भी व्यक्ति की वर्तमान स्थिति का मजाक नही बनाना चाहिए…


इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत है,

अगर उसका साथ छूट जाए तो

वह हर रिश्ते के लिए बोझ बन जाता है…


अकेले होना और अकेले

रोना; कई बार इंसान

को बहुत मजबूत बना देता है…


शानदार रिश्ते चाहिए तो उन्हें गहराई से निभाइए,

लाजवाब मोती कभी किनारों पर नही मिलते।


जरूरी नहीं कि कुछ गलत करने से ही दुःख मिलेगा,

कभी कभी हद से ज्यादा अच्छे होने की भी कीमत चुकानी पड़ती है…


किसी की insult करके फिर उससे

Respect की उम्मीद ना करें…


सीधे इंसान को कभी धोखा मत देना क्योंकि

सीधे इंसान का जवाब उपर वाला टेढ़े तरीके से देता है…लोगों को वक़्त देना सीखो,

रिश्ता खुद मजबूत हो जाएगा…


जो आपका गुस्सा सहन करके भी आपका साथ दे,

उससे ज्यादा प्यार आपको कोई नहीं कर सकता।


जो तुमसे तंग आ जाए उसे छोड़ दो

क्योंकि बोझ बन जाने से याद बन जाना बेहतर है।


किसी को देने के लिए सबसे अच्छा गिफ्ट,

उसकी feelings को समझना और उसे respect देना है।


अक्सर अकेलेपन से वही गुजरता है

जो ज़िन्दगी में सही फैसलों को चुनता है।


खुश रहना है तो चुप रहना सिखो क्योंकि

खुशियों को शोर पसंद नहीं।


कुछ रिश्ते भगवान खराब करते हैं ताकि

हमारी जिंदगी खराब ना हो…


मरने वालों को रोने वाले हजार मिल जाएंगे,

मगर जो जिंदा है उसे समझने वाला एक भी मिलता…


कमजोर कोई नहीं होता,

सब वक़्त का खेल है साहब…


जिंदगी में अगर खुश रहना है तो दूसरों कि

बकवास को अनदेखा करना सीखो…


नियत और सोच अच्छी होनी चाहिए,

बातें तो कोई भी अच्छी कर सकता है…


उनके दिल में बहुत कुछ होता है,

जिनकी जेब में कुछ नहीं होता..


महल हो या झोपडी

अपना घर अपना होता है…


जब तक तुम डरते रहोगे तुम्हारी

जिन्दगी के

फैसले दूसरे लोग ही लेते रहेंगे…


होशियार होना अच्छी बात है,

लेकिन दूसरों को मूर्ख समझना बेवकूफी है…


गिरगिट खतरा देखकर रंग बदलता है,

और इंसान मौका देखकर…


अपनी गलती माने बिना,

आप कभी भी बेहतर नही बन सकते…


किसी भी व्यक्ति से अत्यधिक लगाव हानिकारक है,

क्योंकि लगाव उम्मीद की ओर ले जाता है,

और उम्मीद दुख का कारण बनती है…


जब भी टूटो अकेले में टूटना,

क्योंकि ये दुनिया तमाशा देखने में माहिर है..


जो लोग दर्द समझते हैं वो लोग कभी

भी दर्द की वजह नहीं बनते…


अपने लिए और अपनी जिन्दगी के लिए तो

सभी हमेशा ही जीते है,कभी खुद के मतलब से

हटकर दुसरो की ख़ुशी के लिए भी जीकर देखिये।


जो तुमसे तंग आ जाए उसे छोड़ दो

क्योंकि बोझ बन जाने से

याद बन जाना बेहतर है।


अजीब बात है, दूसरे की सहायता करने

का वक्त किसी के पास नही है,

लेकिन दूसरों के काम में बाधा

डालने का वक्त सबके पास है।


किसी से हद से ज्यादा उम्मीद लगाओगे तो,

एक दिन उस उम्मीद के साथ खुद भी टूट जाओगे।


नियत और सोच अच्छी होनी चाहिए,

बातें तो कोई भी अच्छी कर सकता है।


किसी को रुलाकर आज तक

कोई भी हंस नही पाया है,

यही विधि का विधान है, जिसे

आज तक कोई समझ नही पाया है।


श्रीकृष्ण भगवान कहते हैं कभी

किसी के चहरे को मत देखो

बल्कि उसके मन को देखो

क्योंकि अगर सफेद रंग में वफा होती

तो नमक जख्मों की दवा होती।


खुश रहना है तो चुप रहना सिखो

क्योंकि खुशियों को शोर पसंद नहीं।


जिन्दगी में एक बात हमेशा याद रखना की जो

आपका सम्मान करे उसके लिए आपको झुकना

भी पड़े तो ये आपके सम्मान से भी बढकर है।


झूठ भी कितना अजीब है ना

खुद बोलो तो अच्छा लगता है

दूसरे बोले तो गुस्सा आता है।


किसी को देने के लिए सबसे अच्छा गिफ्ट उसकी

feelings को समझना और उसे respect देना है।


वक्त निकल जाने के बाद, कदर की जाये

तो कदर नहीं अफसोस कहलाता है।


दवा जेब में नहीं परन्तु, शरीर में जाए तो असर होता है

वैसे ही अचे विचार मोबाइल में नहीं,

हृदय में उतरे तो जीवन सफल होता है।


कोई तुम्हारे लिए दरवाजा बंद करे तो उसे

एहसास दिला दो की कुण्डी दोनों तरफ होती है।


मुश्किल में साथ छोड़ देने

वाला कितना भी अपना

क्यों ना हो, दिल से उतर ही जाता है।


मोह खत्म होते ही खोने का डर भी निकल जाता है,

चाहे दौलत हो, वस्तु हो, रिश्ते हो या जिंदगी…


अगर बात करते सुधार हो सकता है,

तो खामोश रहकर रिश्ते मत बिगाड़ो…


अगर कोई तुमसे नाराज है और उसे

गुरुर है कि तुम उसे मना लोगे तो

उसका ये गुरुर कभी टूटने मत देना…


जब कोई आपसे दो कदम पीछे हटे,

तो उसे उम्र भर खुश रहने की दुआ देकर,

चार कदम पीछे हट जाने में ही भलाई है…


वक्त अच्छे अच्छो को झुकाता है,

और वक़्त सबका आता है..


दूसरों की जिंदगी में अपनी

जगह ढूंढ़ना बंद कर दो…

“खुश रहोगे”…


बेशुमार पैसा और दुनिया का कोई भी ब्रांड

आपको वो खुशी नही दे सकता

जो आपको आपका परिवार दे सकता है।


गलतियां कीजिए वो तो सबसे होती हैं,

पर कभी किसी के साथ गलत ना कीजिए।


औकात से बड़े दिखावे इंसान को

कर्ज में डूबा देते हैं।


सच्चे व्यक्ति को खुद के उपर घमंड तभी होता है

जब सच्चाई के साथ अडिग होकर खड़ा होता है।


माचिस किसी दूसरी चीज को जलाने

से पहले खुद को जलाती है गुस्सा भी

एक माचिस की तरह है यह दुसरो को

बर्बाद करने से पहले खुद क बर्बाद करता है।


लक्ष्य तक पहुंचना है तो मेहनत

रूपी ईंधन को जलाना ही होगा।


रिश्ते निभाने के लिए बुद्धि नही

दिल की शुद्धि होनी चाहिए।


अपने ही अपनों से करते है अपनेपन की अभिलाषा

पर अपनों ने ही बदल रखी है अपनेपन की परिभाषा।


इंसान ही इंसान का रास्ता काटता है,

बिल्लियाँ तो यूँ ही बदनाम है।


लाख कोशिश नही करनी है खुद को सही

साबित करने के लिए, बस खुद को इतना बेहतर

बना लेना की कमी की कोई गुंजाईश बच ही न पाए।


जीवन ऐसा हो जो संबंधों की कदर करे

और संबंध ऐसे हो जो याद करने को मजबूर कर दे

दुनियां के रैन बसेरे में पता नही कितने दिन रहना है

जीत लो सबके दिलों को बस यही जीवन का गहना है।


जिस चीज़ को आप कमा सकते है,

उसे मांग कर अपनी वैल्यू कम करने

की कोई जरूरत नहीं।


यह बात दिमाग मे बैठा लो

जिन्दा हो तो निन्दा भी होगीं

क्योंकि तारिफें तो मरने

के बाद हुआ करती हैं।


लोगों को वक़्त देना सीखो,

रिश्ता खुद मजबूत हो जाएगा…


जो आपका गुस्सा सहन करके भी आपका साथ दे,

उससे ज्यादा प्यार आपको कोई नहीं कर सकता।


जो तुमसे तंग आ जाए उसे छोड़ दो

क्योंकि बोझ बन जाने से याद बन जाना बेहतर है।


किसी को देने के लिए सबसे अच्छा गिफ्ट,

उसकी feelings को समझना और उसे respect देना है।


अक्सर अकेलेपन से वही गुजरता है

जो ज़िन्दगी में सही फैसलों को चुनता है।


खुश रहना है तो चुप रहना सिखो क्योंकि

खुशियों को शोर पसंद नहीं।


कुछ रिश्ते भगवान खराब करते हैं ताकि

हमारी जिंदगी खराब ना हो…


मरने वालों को रोने वाले हजार मिल जाएंगे,

मगर जो जिंदा है उसे समझने वाला एक भी मिलता…


कमजोर कोई नहीं होता,

सब वक़्त का खेल है साहब…


लोगों को वक़्त देना सीखो

रिश्ता खुद मजबूत हो जाएगा।

जीवन की कुछ सच्ची और अच्छी बातें

कुछ ऐसे हो गए हैं इस दौर के रिश्ते जो

आवाज तुम ना दो तो बोलते वह भी नहीं।


समझदार इंसान से की गई कुछ मिनट की बात,

हजारों किताबें पढ़ने से बेहतर होती है।


संसार में हर एक चीज ठोकर

लगने के बाद टूट जाती है,

लेकिन एक सफलता ही है जो ठोकर

लगने के बाद ही मिलती है।


दूसरों के घर में जाकर हगामा वही लोग करते है

जिन्हें उनके घर में कोई इज्जत नहीं मिलती।


जिन्दगी की सबसे सच्ची बात तो ये है की

यहा तो हर कोई अपने मतलब के लिए

पल में सच्चा और पल में झूठा हो जाता है


चैन से जीने के लिए चार रोटी

दो कपड़े काफी है

पर बेचैनी से जीने के लिए

चार गाडी और दो बंगले कम है।


जो आपके खुश होने पर खुश और

दुखी होने पर दुखी हो जाये उससे

ज्यादा प्यार आपको कोई नहीं कर सकता।


दुश्मन इतनी आसानी से, कहाँ मिलते हैं?

बहुत लोगों का, भला करना पड़ता है।


जब तक तुम्हारे पास पैसा है

दुनिया पूछेगी भाई तू कैसा है।


लोग आइना देखना छोड़ देंगे अगर आइने

में ‘चित्र’ की जगह ‘चरित्र’ दिखाई देगा तो।


गिरगिट खतरा देखकर रंग बदलता है,

और इंसान मौका देखकर…


अपनी गलती माने बिना,

आप कभी भी बेहतर नही बन सकते…


किसी भी व्यक्ति से अत्यधिक लगाव हानिकारक है,

क्योंकि लगाव उम्मीद की ओर ले जाता है,

और उम्मीद दुख का कारण बनती है…


जब भी टूटो अकेले में टूटना,

क्योंकि ये दुनिया तमाशा देखने में माहिर है..

जो लोग दर्द समझते हैं वो लोग कभी

भी दर्द की वजह नहीं बनते…


खाली जेब के साथ दुनिया तो नहीं घूम पाया,

लेकिन खाली जेब ने दुनिया जरुर दिखा दी…


सलाह के सौ शब्दों से ज्यादा,

अनुभव की एक ठोकर मजबूत बना देती है…


दिल पर धक्का तभी लगता है, जब

धोखा देने वाले पर विश्वास पक्का हो…


हर पेड़ फल दे, ये जरूरी नहीं,

किसी की छाया भी, बड़ा सुकून देती है…


उस इंसान को कोई नहीं बदल सकता,

जिस इंसान को खुद की गलती नजर ही न आती हो…


बेशक हंसना अच्छी बात है

मगर दूसरों पर नही…


वक़्त से पहले मिली चीजें अपना मूल्य खो देती हैं,

और वक़्त के बाद मिली अपना महत्व…


आजकल हाथों से कमाने वाले सिर्फ पेट भरते हैं,

दिमाग से कमाने वाले तिजोरियां भरते हैं,

यही सच है।


समस्या का अंतिम हल माफी

ही है, माफ़ कर दो या माफी मांग लो…


शुक्रिया कीजिए धोखा देने वालों का,

वो सिर्फ हमे रुलाते नही जिंदगी जीना सिखाते हैं।


कोई प्यार करने वाला मिल जाए तो संभाल के रखना,

परवाह करने वाले बार बार नही मिलते…


हिसाब रखा करो;

आजकल लोग बड़ी जल्दी पूछ लेते हैं,

तुमने मेरे लिए किया ही क्या है…


अपनी लड़ाई तुम्हे खुद लड़नी है क्योंकि

लोग ज्ञान देते हैं, साथ नही…


इतना बेहतर भी ना खोजो,

कि बेहतरीन को ही खो दो…


किसी से रूठो तो संभलकर,

रूठना आजकल मनाने

का नही छोड़ देने का रिवाज है…


एक बार भरोसा टूटने के बाद रिश्ते में बात

तो होती है, पर वो बात नहीं रहती…


जो भूल गए उन्हें भूल जाने दो,

सब याद करेंगे एक बार उनके

मतलब के दिन तो आने दो।


इंसान सबकुछ भूल जाता है, लेकिन

कष्ट देने वालों को कभी नहीं भूल पाता है…


किसी की insult करके फिर उससे

Respect की उम्मीद ना करें…


सीधे इंसान को कभी धोखा मत देना क्योंकि

सीधे इंसान का जवाब उपर वाला टेढ़े तरीके से देता है…


पिता से बड़ा कोई सलाहकार नहीं

मां की छांव से बड़ी कोई दुनिया नहीं

भाई से अच्छा कोई भागीदार नहीं और

बहन से बड़ा कोई शुभचिंतक नहीं।


साथ देने का हुनर ताले से सीखो

टूट जाएगा पर चाबी नहीं बदलेगा..!


रिश्ते को कामयाब बनाएं रखने के लिए

प्यार, एक दूसरे की कदर,

रिस्पेक्ट और ट्रस्ट बहुत जरूरी है..!


इस मतलबी दुनिया से कोई

मतलब ना रखो

और मतलब रखना है तो

अपने मतलब से मतलब रखो..!


किसी के इतना करीब भी मत जाओ

कि उसके जाने से आप

खुद के करीब ना रहो..!


मां हम सबके जीवन का एक ऐसा फूल है

जो हो तो जिंदगी खिल जाए और ना हो तो

जिंदगी का खिला फूल भी मुरझा जाए..!


नींद अपनी भुला के सुलाया तुमको

आसूं अपने छुपा के हंसाया तुमको

दर्द कभी मत देना उन हस्तियों को

ऊपर वाले ने मां बाप बनाया जिनको।


पेड़ की डाली से गिरता हुआ पत्ता

भी हमे सीख देता है, की

अगर जिंदगी में तुम बोझ बन जाते हो

तो अपने ही तुम्हे गिरा देते है।


भरोसा तो खुद पर इस तरह का होना चाहिए

की हार को भी जीत की तरह से हारे।


मीठा शहद बनाने वाली मधुमक्खी भी

डंक मारने से नहीं चुकती,

इसलिए सदैव होशियार रहे

क्योकि बहुत मीठा बोलने वाले

hunny नहीं हानि भी दे सकता हैं।


जब ज़िन्दगी तुम्हे दुबारा मौका दे,तो पुरानी

गलतियों को दोहराने की गलती कभी मत करना।


समय से ज्यादा सिर्फ उन्हीं रिश्तों की कदर करो,

जिन्होंने समय पर आपका साथ दिया है।


घमंड के अंदर बुरी बात

यह होती है कि वो आपको

कभी महसूस नहीं होने देगा

कि आप गलत हो।

2 लाइन सच्ची बातें

याददाश्त का कमजोर होना

इतनी भी बुरी बात नहीं बेचैन रहते हैं

वह लोग जिन्हें हर बात याद रहती है।


एक सच्चे मित्र की पहचान केवल संकट के समय होती

और एक मुर्ख व्यक्ति की पहचान ख़ुशी और

दुःख दोनों के समय पर की जा सकती है।


कड़वा सत्य किसी भी व्यक्ति को ज्यादा सुधारना

चाहोगेतो वो आपका दुश्मन बन जाएगा।


जब कोई नया मिल जाता हैं तो

पुराना रिस्ता ऐसे खत्म हो जाता हैं

जैसे कभी था ही नहीं।


छोटी सी होती हैं ये जिन्दगी इसे हसकर जियो

क्योंकि लोटकर सिर्फ यादें आती हैं वक्त नही।


जीवन में एक बात हमेशा याद रखिये दोस्त

बाते भले ही आप सभी की सुनिए लेकिन भरोसा

तो सिर्फ खुद की काबिलियत पर ही रखिये।


जीवन का सबसे बड़ा गुरु waqt है

क्योंकि जो वक़त सिखाता है,

वो कोई नहीं सीखा सकता।


पेड़ कभी डाली काटने से नही सूखता है,

वह हमेशा जड़ काटने से सूखता है,

उसी तरह इंसान अपने कर्म से नही,

अपनी गलत सोच और व्यवहार से हारता है।


वक़्त और किस्मत पर कभी घमंड मत करना क्योंकि,

सुबह उनकी भी होती है, जिनके दिन खराब हो।


साफ दिल के इंसानों के साथ,ना जाने क्यों

लोग, खेलने की हद तक खेल जाते हैं।


अहंकार दिखाकर किसी रिश्ते को तोड़ने से

कहीं अच्छा है कि क्षमा मांगकर उस रिश्ते को

निभाया जाये केवल रोजी रोटी कमाना ही

हुनर की बात नही है बल्कि परिवार के साथ

राजी राजी रोटी खाना भी बहुत बड़ा हुनर है।


नफरतों में क्या रखा हैं मोहब्बत से जीना सीखो

क्योकि ये दुनियाँ न तो हमारा घर हैं और

न ही आप का ठिकाना याद रहे दूसरा मौका

सिर्फ कहानियाँ देती हैं, जिन्दगी नहीं।


मरने वालों को रोने वाले हजार मिल जाएंगे,

मगर जो जिंदा है उसे समझने वाला एक भी मिलता।


उनके दिल में बहुत कुछ होता है,

जिनकी जेब में कुछ नहीं होता।


जिन्दगी जब देती है, तो एहसान नहीं करती

और जब लेती है तो, लिहाज नहीं करती।


पैसा एक ही भाषा बोलता है

अगर तुमने आज मुझे बचा लिया तो

कल मै तुम्हे बचा लूंगा।


जीवन में सबसे सच्ची बात ये है की न हम कुछ

लेकर आये थे और न ही कुछ लेकर जायेंगे, बस

अच्छी यादे इस धरती पर सभी के लिए छोड़ जायेंगे।


अगर कोई तुमसे नाराज है और उसे

गुरुर है कि तुम उसे मना लोगे तो

उसका ये गुरुर कभी टूटने मत देना…


जब कोई आपसे दो कदम पीछे हटे,

तो उसे उम्र भर खुश रहने की दुआ देकर,

चार कदम पीछे हट जाने में ही भलाई है…


वक्त अच्छे अच्छो को झुकाता है,

और वक़्त सबका आता है..


दूसरों की जिंदगी में अपनी

जगह ढूंढ़ना बंद कर दो…

“खुश रहोगे”…


बेशुमार पैसा और दुनिया का कोई भी ब्रांड

आपको वो खुशी नही दे सकता

जो आपको आपका परिवार दे सकता है।


गलतियां कीजिए वो तो सबसे होती हैं,

पर कभी किसी के साथ गलत ना कीजिए।


औकात से बड़े दिखावे इंसान को

कर्ज में डूबा देते हैं।


जिसने साथ दिया उसका साथ दो,

परन्तु जिसने त्याग दिया उसे तुम भी त्याग दो।


आजकल लोग दिल से दी हुई इज्ज़त से खुश नहीं होते…

दिखावे की चापलूसी करने वालों से गर्व महसूस करते हैं।


जुबान और दिमाग तेज

चलाने से रिश्तों

की रफ्तार धीमी पड़ जाती है।


ज़िन्दगी में अगर ख़ुश रहना है तो,

अपना दर्द छुपाना सीख लो,

दिल की बातें हर किसी को बताना छोड़ दो…


किसी के साथ बुरा करना वो कर्ज है,

जो रब आपको दोगुना करके वापस देता है

वो भी ब्याज के साथ।


लोग कहते हैं माफ़ कर देना चाहिए

मगर इंसान की गलतियां माफ़ की जाती हैं साहब चालाकियां नही।


उसका हाथ पकड़ो जिसे सुख में आप ना छोड़ो,

और दुःख में वो आपको ना छोड़े।


संभाल कर रखी हुई चीज और

ध्यान से सुनी हुई बात कभी ना कभी

काम आ ही जाती है।


रिश्ते जब रूठने पर आ जाते हैं,

तो अच्छाई भी बुराई बन जाती है।


जो इंसान रोता रोता गुस्से में सबकुछ

बोल देता है ना, वही सच होता है क्योंकि,

गुस्सा और रोना इंसान को सच बोलने के लिए मजबूर कर देते हैं।


अपनी अच्छाई पर इतना भरोसा रखो कि

जो भी तुम्हे खोएगा यकीनन रोएगा।


इतना भी busy नहीं होना चाहिए कि अपने भी रूठ जाएं,

और इतना भी free नहीं होना चाहिए

कि मा बाप के सपने टूट जाए।


समय का तमाचा गाल पर नही,

सीधा आपकी ज़िन्दगी की खुशियों की खुशियों पर लगता है।


जब किसी की 99 अच्छाइयों को छोड़कर

एक बुराई पर ताना मारो तो अगली दफा तुम

उन 99 अच्छाइयों की भी उम्मीद मत करना।


जीवन में कुछ लोगों का साथ

छोड़ना पड़ता है, घमंड के लिए नही

बल्कि अपने आत्मसम्मान के लिए…


‘एक बात बोलूं’ कोई भी व्यक्ति उस इंसान की बात ध्यान से सुनता है

जिसे खोने का डर उसे सबसे ज्यादा होता है…


गलतियों पर चिल्लाने या डांटने की बजाय

कोई हाथ थामकर प्यार से समझा दे,

तो बहुत अच्छा लगता है…


जिन्हे वाकई बात करना आता है,

वह लोग अक्सर खामोश रहते हैं…


भरोसा नहीं है क्या मुझसे?

पता नही कितने लोग, ये बात बोलकर धोखा दे जाते हैं…


कुछ बातों से अनजान रहना ही अच्छा है

कभी कभी सबकुछ जान लेना भी बहुत तकलीफ़ देता है।


इस दुनिया का कोई रंग नही, कोई ढंग नहीं,

पैसा पास है तो सबकुछ है, वरना कोई संग नही…

Zindagi ki sachi baatein 

मदद करने के लिए धनी होना जरूरी नही,

मदद करने का इरादा होना चाहिए…


मदद एक ऐसी घटना है जिसे करो तो लोग भूल जाते हैं

और ना करो तो लोग याद रखते हैं…


किसी को माफ़ करना

और माफी मांग लेना,

एक ताकत है कमजोरी नही…


नफ़रत करके क्यों बढ़ाते हो अहमियत किसी की??

माफ़ करके शर्मिंदा करने का तरीका भी तो बुरा नहीं…


बुरा उतना ही करो कि जब खुद पर आए,

तो बर्दाश्त कर सको…


जिसे हम सबसे ज्यादा चाहते हैं,

उसी में सबसे अधिक ताकत होती है हमे रुलाने की…


प्रेम और मौत में यही समानता है,

ना ये उम्र देखती है, ना वक़्त और ना जगह…


आपका परिवार कितना अमीर है ये मायने नही रखता,

आपका परिवार कितना ख़ुश है ये बहुत मायने रखता है…


रोना कमजोरी नही होती

कभी कभी तो लेने

से इंसान मजबूत हो जाता है।


जब मर्द की आंखों से आंसू छलकने लगें,

तो समझ लो मुसीबत पहाड़ से भी बड़ी है…


वक़्त अच्छा हो तो आपकी गलती भी मजाक लगती है,

और वक़्त खराब हो तो मजाक भी गलती बन जाता है…


अपनी खुशियां अपने तक ही रखो,

आजकल लोगों की नजर बहुत जल्दी लगती है…


दुनिया की हक़ीक़त यही है कि सच्चे इंसान को हमेशा,

झूठे इंसान से ज्यादा सफाइयां देनी पड़ती है…


जो रिश्ता कम और गुरुर ज्यादा रखें,

ऐसे लोगों को दिल से दूर रखें…


इंसान 2 लोगों से हमेशा हार जाता है,

एक अपने परिवार से और दूसरा अपने प्यार से…


जो आपसे बात करना बंद कर देता है,

वो फिर दूसरों से आपके बारे में बात करने लगता है…


फिर से प्रयास करने से मत घबराना

क्योंकि इस बार शुरुआत शून्य से नही अनुभव से होगी…


जितना ज्यादा जिसको भाव दोगे,

खुद के भाव उतना गिराते जाओगे…


जिसने साथ दिया उसका साथ दो,

परन्तु जिसने त्याग दिया उसे तुम भी त्याग दो।


आजकल लोग दिल से दी हुई इज्ज़त से खुश नहीं होते…

दिखावे की चापलूसी करने वालों से गर्व महसूस करते हैं।


जुबान और दिमाग तेज

चलाने से रिश्तों

की रफ्तार धीमी पड़ जाती है।


ज़िन्दगी में अगर ख़ुश रहना है तो,

अपना दर्द छुपाना सीख लो,

दिल की बातें हर किसी को बताना छोड़ दो…


किसी के साथ बुरा करना वो कर्ज है,

जो रब आपको दोगुना करके वापस देता है

वो भी ब्याज के साथ।


लोग कहते हैं माफ़ कर देना चाहिए

मगर इंसान की गलतियां माफ़ की जाती हैं साहब चालाकियां नही।


उसका हाथ पकड़ो जिसे सुख में आप ना छोड़ो,

और दुःख में वो आपको ना छोड़े।


संभाल कर रखी हुई चीज और

ध्यान से सुनी हुई बात कभी ना कभी

काम आ ही जाती है।


रिश्ते जब रूठने पर आ जाते हैं,

तो अच्छाई भी बुराई बन जाती है।


जो इंसान रोता रोता गुस्से में सबकुछ

बोल देता है ना, वही सच होता है क्योंकि,

गुस्सा और रोना इंसान को सच बोलने के लिए मजबूर कर देते हैं।


अपनी अच्छाई पर इतना भरोसा रखो कि

जो भी तुम्हे खोएगा यकीनन रोएगा।


इतना भी busy नहीं होना चाहिए कि अपने भी रूठ जाएं,

और इतना भी free नहीं होना चाहिए

कि मा बाप के सपने टूट जाए।


समय का तमाचा गाल पर नही,

सीधा आपकी ज़िन्दगी की खुशियों की खुशियों पर लगता है।


इतना बेहतर भी ना खोजो,

कि बेहतरीन को ही खो दो…


किसी से रूठो तो संभलकर,

रूठना आजकल मनाने

का नही छोड़ देने का रिवाज है…


एक बार भरोसा टूटने के बाद रिश्ते में बात

तो होती है, पर वो बात नहीं रहती…


जो भूल गए उन्हें भूल जाने दो,

सब याद करेंगे एक बार उनके

मतलब के दिन तो आने दो।


इंसान सबकुछ भूल जाता है, लेकिन

कष्ट देने वालों को कभी नहीं भूल पाता है…

समय से ज्यादा सिर्फ उन्हीं रिश्तों की कदर करो,

जिन्होंने समय पर आपका साथ दिया है…


कड़वा सत्य.. किसी भी व्यक्ति को ज्यादा सुधारना चाहोगे

तो वो आपका दुश्मन बन जाएगा।


जितना गहरा रिश्ता, उतनी ज्यादा उम्मीद,

उम्मीद जितनी ज्यादा, उतनी गहरी चोट…


हजार चाहने वालों से

एक “निभाने” वाला बेहतर है…


गहरी बातें समझने के लिए, गहरा होना जरूरी है,

और गहरा वही हो सकता है, जिसने गहरी चोटें खाई हों…


बात करने के लिए वक़्त और शब्द नहीं,

बल्कि मन होना चाहिए…


समझदार इंसान से की गई कुछ मिनट की बात,

हजारों किताबें पढ़ने से बेहतर होती है…


जब ज़िन्दगी तुम्हे दुबारा मौका दे,

तो पुरानी गलतियों को दोहराने की गलती कभी मत करना…


वक़्त और किस्मत पर कभी घमंड मत करना क्योंकि,

सुबह उनकी भी होती है, जिनके दिन खराब हो…


रिश्ता चाहे कोई भी हो

पासवर्ड एक ही होता है

“विश्वास”…


माफी वही दे सकता है, जो अंदर से मजबूत हो,

खोखले इंसान सिर्फ बदले की आग में जलते हैं…


प्रेम सदा माफी मांगना पसंद करता है,

और अहंकार सदा माफी सुनना पसंद करता है।


गलती बेशक भूल जाओ,

लेकिन सबक हमेशा याद रखो…


हर किसी को अपने राज मत बताओ,

हो सकता है आने वाले वक्त में वो आपके खिलाफ हो,

और आपकी कमजोरी जानता हो…


लोगों से डरना छोड़ दो,

इज्ज़त ऊपरवाला देता है लोग नही…

रिश्ते निभाने के लिए बुद्धि नही;

दिल की शुद्धि होनी चाहिए…


जहां नाराजगी की कदर ना हो वहां,

नाराज होना छोड़ देना चाहिए…


जिंदगी में अगर खुश रहना है तो दूसरों कि

बकवास को अनदेखा करना सीखो…


नियत और सोच अच्छी होनी चाहिए,

बातें तो कोई भी अच्छी कर सकता है…


उनके दिल में बहुत कुछ होता है,

जिनकी जेब में कुछ नहीं होता..


महल हो या झोपडी

अपना घर अपना होता है…


अकेले ही गुजरती है जिंदगी लोग

तसल्लियां तो देते हैं पर साथ नहीं।


पत्थर मे एक कमी है कि वो

पिघलता नहीं है मगर एक खुबी भी हैं

कि वो इंसान की तरह बदलता नही हैं।


भरोसा उस पर करो,

जो तुम्हारी तीन बातें जान सके

हंसी के पीछे का दर्द,

गुस्से के पीछे का प्यार और

आपके चुप रहने की वजह।

sachi bate anmol vachan

जल्दी जागना हमेशा ही फायदेमंद होता हैं, फिर

चाहे वो नींद से हो या अहम् से या फिर वहम से हो।


प्रशंसा चाहे जितनी कर लो

अपमान सोच समझकर करना

क्योंकि अपमान वो ऊधार हैं

जो अवसर मिलने पर ब्याज सहित लोटता हैं।


जीवन एक ऐसा रंग मंच है जहां किरदार

को खुद पता नहीं होता अगला दृश्य क्या है।


रिश्तों की चाय में शकर जरा

माप के रखना चाहिये फीकी हुई तो

स्वाद नही आएगा ज्यादा मीठी

हुई तो मन भर जाएगा।


प्रेम सदा माफी मांगना पसंद करता है,

और अहंकार

सदा माफी सुनना पसंद करता है।


इज्जत किसी इंसान की नहीं होती

जरूरत की होती है जरूरत खत्म

इज्जत खत्म यही दुनिया का सच है।


जीवन में कभी भी मुसीबत आए तो

किसी से मदद मत मांगना क्योंकि

मुसीबत थोड़ी देर की होती है और

एहसान जिंदगी भर का रह जाता है।


आप कब सही थे इसे कोई याद नहीं रखता

लेकिन आप कब गलत थे इसे सब याद रखते है।


ठंड में हाथ काम नहीं करते और

घमंड में दिमाग काम नहीं करता।


छोटी – छोटी बातो पर

वही लोग गुस्सा करते है जिन्हे

हमारी फ़िक्र होती है।


बुराइयां ढूढंने का शौक है तो शुरुआत

खुद से ही कीजिए दूसरों से नही।


जिंदगी में अगर खुश रहना है तो दूसरों कि

बकवास को अनदेखा करना सीखो।


समय से ज्यादा सिर्फ उन्हीं रिश्तों की कदर करो,

जिन्होंने समय पर आपका साथ दिया है…


कड़वा सत्य.. किसी भी व्यक्ति को ज्यादा सुधारना चाहोगे

तो वो आपका दुश्मन बन जाएगा।


जितना गहरा रिश्ता, उतनी ज्यादा उम्मीद,

उम्मीद जितनी ज्यादा, उतनी गहरी चोट…


हजार चाहने वालों से

एक “निभाने” वाला बेहतर है…


गहरी बातें समझने के लिए, गहरा होना जरूरी है,

और गहरा वही हो सकता है, जिसने गहरी चोटें खाई हों…


बात करने के लिए वक़्त और शब्द नहीं,

बल्कि मन होना चाहिए…


समझदार इंसान से की गई कुछ मिनट की बात,

हजारों किताबें पढ़ने से बेहतर होती है…


जब ज़िन्दगी तुम्हे दुबारा मौका दे,

तो पुरानी गलतियों को दोहराने की गलती कभी मत करना…


वक़्त और किस्मत पर कभी घमंड मत करना क्योंकि,

सुबह उनकी भी होती है, जिनके दिन खराब हो…


रिश्ता चाहे कोई भी हो

पासवर्ड एक ही होता है

“विश्वास”…


माफी वही दे सकता है, जो अंदर से मजबूत हो,

खोखले इंसान सिर्फ बदले की आग में जलते हैं…


प्रेम सदा माफी मांगना पसंद करता है,

और अहंकार सदा माफी सुनना पसंद करता है।


गलती बेशक भूल जाओ,

लेकिन सबक हमेशा याद रखो…


हर किसी को अपने राज मत बताओ,

हो सकता है आने वाले वक्त में वो आपके खिलाफ हो,

और आपकी कमजोरी जानता हो…


लोगों से डरना छोड़ दो,

इज्ज़त ऊपरवाला देता है लोग नही…


रिश्ते निभाने के लिए बुद्धि नही;

दिल की शुद्धि होनी चाहिए…


जहां नाराजगी की कदर ना हो वहां,

नाराज होना छोड़ देना चाहिए…


खाली जेब के साथ दुनिया तो नहीं घूम पाया,

लेकिन खाली जेब ने दुनिया जरुर दिखा दी…


सलाह के सौ शब्दों से ज्यादा,

अनुभव की एक ठोकर मजबूत बना देती है…


दिल पर धक्का तभी लगता है, जब

धोखा देने वाले पर विश्वास पक्का हो…


हर पेड़ फल दे, ये जरूरी नहीं,

किसी की छाया भी, बड़ा सुकून देती है…


उस इंसान को कोई नहीं बदल सकता,

जिस इंसान को खुद की गलती नजर ही न आती हो…


बेशक हंसना अच्छी बात है

मगर दूसरों पर नही…


वक़्त से पहले मिली चीजें अपना मूल्य खो देती हैं,

और वक़्त के बाद मिली अपना महत्व…


याद रखना रिश्ते तोड़ने के लिए,

लोग गलत इल्ज़ाम भी लगा देते हैं…


मित्र अमीर है या गरीब ये मायने नही रखता,

बल्कि आपके बुरे समय में आपका साथ कितना देता है, यह मायने रखता है…


‘एक बात बोलूं’ कोई भी व्यक्ति उस इंसान की बात ध्यान से सुनता है

जिसे खोने का डर उसे सबसे ज्यादा होता है…


गलतियों पर चिल्लाने या डांटने की बजाय

कोई हाथ थामकर प्यार से समझा दे,

तो बहुत अच्छा लगता है…


जिन्हे वाकई बात करना आता है,

वह लोग अक्सर खामोश रहते हैं…


भरोसा नहीं है क्या मुझसे?

पता नही कितने लोग, ये बात बोलकर धोखा दे जाते हैं…


कुछ बातों से अनजान रहना ही अच्छा है

कभी कभी सबकुछ जान लेना भी बहुत तकलीफ़ देता है।


इस दुनिया का कोई रंग नही, कोई ढंग नहीं,

पैसा पास है तो सबकुछ है, वरना कोई संग नही…


मदद करने के लिए धनी होना जरूरी नही,

मदद करने का इरादा होना चाहिए…


मदद एक ऐसी घटना है जिसे करो तो लोग भूल जाते हैं

और ना करो तो लोग याद रखते हैं…


किसी को माफ़ करना

और माफी मांग लेना,

एक ताकत है कमजोरी नही…


नफ़रत करके क्यों बढ़ाते हो अहमियत किसी की??

माफ़ करके शर्मिंदा करने का तरीका भी तो बुरा नहीं…


बुरा उतना ही करो कि जब खुद पर आए,

तो बर्दाश्त कर सको…


जिसे हम सबसे ज्यादा चाहते हैं,

उसी में सबसे अधिक ताकत होती है हमे रुलाने की…


प्रेम और मौत में यही समानता है,

ना ये उम्र देखती है, ना वक़्त और ना जगह…


वक़्त अच्छा हो तो आपकी गलती भी मजाक लगती है,

और वक़्त खराब हो तो मजाक भी गलती बन जाता है…


अपनी खुशियां अपने तक ही रखो,

आजकल लोगों की नजर बहुत जल्दी लगती है…


दुनिया की हक़ीक़त यही है कि सच्चे इंसान को हमेशा,

झूठे इंसान से ज्यादा सफाइयां देनी पड़ती है…


जो रिश्ता कम और गुरुर ज्यादा रखें,

ऐसे लोगों को दिल से दूर रखें…


इंसान 2 लोगों से हमेशा हार जाता है,

एक अपने परिवार से और दूसरा अपने प्यार से…


जो आपसे बात करना बंद कर देता है,

वो फिर दूसरों से आपके बारे में बात करने लगता है…


फिर से प्रयास करने से मत घबराना

क्योंकि इस बार शुरुआत शून्य से नही अनुभव से होगी…


जितना ज्यादा जिसको भाव दोगे,

खुद के भाव उतना गिराते जाओगे…


कोई तुम्हारे लिए दरवाजा बंद करे तो उसे

एहसास दिला दो की कुण्डी दोनों तरफ होती है।


मुश्किल में साथ छोड़ देने

वाला कितना भी अपना

क्यों ना हो, दिल से उतर ही जाता है।


मोह खत्म होते ही खोने का डर भी निकल जाता है,

चाहे दौलत हो, वस्तु हो, रिश्ते हो या जिंदगी…


अगर बात करते सुधार हो सकता है,

तो खामोश रहकर रिश्ते मत बिगाड़ो…


समझने वाला मुस्कुराहट के पीछे का दुख भी समझ जाएगा,

ना समझने वाला चाहे तुम उसके सामने रो दो नही समझेगा…


खाना हो या मोहब्बत अगर किसी को ज्यादा दे दो,

तो वह अधूरा छोड़कर चला जाता है।


अगर परमात्मा तुम्हे कष्ट के पास ले आया है तो

अवश्य ही वो तुम्हे कष्ट के पार भी के जाएगा।


जिस इंसान के बिना हम एक पल भी नही रह सकते,

वही इंसान हमें अकेले रहना सिखा देता है ।


आजकल हाथों से कमाने वाले सिर्फ पेट भरते हैं,

दिमाग से कमाने वाले तिजोरियां भरते हैं,

यही सच है।


समस्या का अंतिम हल माफी

ही है, माफ़ कर दो या माफी मांग लो…


शुक्रिया कीजिए धोखा देने वालों का,

वो सिर्फ हमे रुलाते नही जिंदगी जीना सिखाते हैं।


कोई प्यार करने वाला मिल जाए तो संभाल के रखना,

परवाह करने वाले बार बार नही मिलते…


हिसाब रखा करो;

आजकल लोग बड़ी जल्दी पूछ लेते हैं,

तुमने मेरे लिए किया ही क्या है…


अपनी लड़ाई तुम्हे खुद लड़नी है क्योंकि

लोग ज्ञान देते हैं, साथ नही…


जब तक तुम डरते रहोगे तुम्हारी

जिन्दगी के

फैसले दूसरे लोग ही लेते रहेंगे…


होशियार होना अच्छी बात है,

लेकिन दूसरों को मूर्ख समझना बेवकूफी है…


मुसीबत आए तो ये मत सोचना कि

अब कौन काम आएगा बल्कि ये देखना

अब कौन साथ को छोड़कर जाएगा।


किसी ने सच ही कहा है वो इंसान आपका

मोल कभी नहीं समझ पायेगा

जिसके लिये आप हमेशा हाजिर रहते हों।


दुनिया का सबसे आसान काम है

विश्वास खोना कठीन काम है

विश्वास पाना और उससे भी कठीन है

विश्वास को बनाये रखना।


उन शब्दो को ध्यानपूर्वक अपने मुँह से लगाना

जिन्हे बोलने के बाद आपको पछताना पड़े।


अच्छाई’ और ‘सच्चाई’ चाहे पूरी दुनिया मे ढूंढ

लो अगर खुद मे नही है तो कही नही मिलेगी।


वाणी में भी अजीब शक्ति होती है

कड़वा बोलने वाले का

शहद भी नहीं बिकता और

मीठा बोलने वाले की

मिर्ची भी बिक जाती है।


जो लोग बुद्धि को छोड़कर भावनाओं में बह जाते है

उन्हें हर कोई मुर्ख बना सकता है।


किसी को गलत समझने से

पहले उसके हालात को जरूर

समझ लेना चाहिए।


जिंदगी के सफर में बस इतना ही सबक

सीखा हैं सहारा कोई नहीं देता हैं,

लेकिन धक्का देने को हर शख्स तैयार बैठा हैं।


अगर जिंदगी में सफल होना है तो पैसों को

हमेशा जेब में रखना दिमाग में नही।


मुँह पर “सच ” बोलने की आदत है मुझे

इसलिए लोग मुझे बतमीज कहते है।


गहरी बातें समझने के लिए,

गहरा होना जरूरी है, और

गहरा वही हो सकता है,

जिसने गहरी चोटें खाई हों।


सब कुछ खोने के बाद भी

अगर आपने हौसला है

तो समझ लीजिए आपने

कुछ नहीं खोया।


हर किसी को अपने राज मत बताओ,हो सकता

है आने वाले वक्त में वो आपके खिलाफ हो,

और आपकी कमजोरी जानता हो।


रिश्तों की बगिया में एक रिश्ता नीम

के पेड़ जैसा भी रखना जो सिख भले ही

कड़वी देता हो तकलीफ में मरहम भी बनता है।


आदमी अच्छा था यह सुनने के लिए आपको

मरना पड़ता हैं यही जिंदगी की सच्ची बात है।


याद रखना रिश्ते तोड़ने के लिए,

लोग गलत इल्ज़ाम भी लगा देते हैं…


मित्र अमीर है या गरीब ये मायने नही रखता,

बल्कि आपके बुरे समय में आपका साथ कितना देता है, यह मायने रखता है…


दूसरे का सुख देखकर दुखी होने वाला

कभी सुखी नहीं हो सकता…


तमाशा लोग नही हम खुद बनाते हैं अपनी ज़िन्दगी का,

किसी को अपनी कमजोरी बता कर…


वक़्त कोयले को भी हीरा बना देता है,

इसलिए किसी भी व्यक्ति की वर्तमान स्थिति का मजाक नही बनाना चाहिए…


इंसान का सबसे बेहतरीन साथी उसकी सेहत है,

अगर उसका साथ छूट जाए तो

वह हर रिश्ते के लिए बोझ बन जाता है…


अकेले होना और अकेले

रोना; कई बार इंसान

को बहुत मजबूत बना देता है…


शानदार रिश्ते चाहिए तो उन्हें गहराई से निभाइए,

लाजवाब मोती कभी किनारों पर नही मिलते।


जरूरी नहीं कि कुछ गलत करने से ही दुःख मिलेगा,

कभी कभी हद से ज्यादा अच्छे होने की भी कीमत चुकानी पड़ती है…


जब किसी की 99 अच्छाइयों को छोड़कर

एक बुराई पर ताना मारो तो अगली दफा तुम

उन 99 अच्छाइयों की भी उम्मीद मत करना।


जीवन में कुछ लोगों का साथ

छोड़ना पड़ता है, घमंड के लिए नही

बल्कि अपने आत्मसम्मान के लिए…


समझने वाला मुस्कुराहट के पीछे का दुख भी समझ जाएगा,

ना समझने वाला चाहे तुम उसके सामने रो दो नही समझेगा…


खाना हो या मोहब्बत अगर किसी को ज्यादा दे दो,

तो वह अधूरा छोड़कर चला जाता है।


अगर परमात्मा तुम्हे कष्ट के पास ले आया है तो

अवश्य ही वो तुम्हे कष्ट के पार भी के जाएगा।


जिस इंसान के बिना हम एक पल भी नही रह सकते,

वही इंसान हमें अकेले रहना सिखा देता है।

हर दिन नये नये स्टेटस और शायरी पाने के लिए अभी Bookmark करें StatusCrush.in को।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ